Sadanand Gupta appointed president of Uttar Pradesh Hindi Sansthan

Professor Sadanand Gupta, the former head of the Hindi department in the Gorakhpur University and renowned Hindi litterateur, has been appointed as the working president of the Uttar Pradesh Hindi Sansthan. The post was vacant since the Yogi Adityanath government came to power in March 2017. The working president of the Sansthan Uday Pratap Singh had resigned after change of guard in the State. 
Prof Gupta has been honoured with Birla, Vyas, and Saraswati awards for his literary contributions. He is also associated with several RSS magazines. A native of state of Jharkhand, Prof Gupta has been residing in Gorakhpur since his retirement from Gorakhpur University in 2013.

लखनऊ मेट्रो रेल सेवा का उद्घाटन हुआ

उत्तर प्रदेश के राज्यपाल श्री राम नाईक जी ने 5 सितम्बर को लखनऊ मेट्रो रेल के प्रथम चरण सेवा का ट्रांसपोर्टनगर से चारबाग तक उद्घाटन किया है। उन्होंने परियोजना के लिए भारत सरकार एवं राज्य सरकार को श्रेय देते हुए कहा कि इसको सफल बनाने में डाॅ0 ई0 श्रीधरन के योगदान को हमेशा याद रखा जाएगा। उन्होंने एल0एम0आर0सी0 के प्रबन्ध निदेशक श्री कुमार केशव व निदेशक श्री दलजीत सिंह की सराहना करते हुए कहा कि इन दोनों इंजीनियरों ने आई0आई0टी0 कानपुर से अध्ययन किया है। इससे यह भी स्पष्ट होता है कि अवसर मिलने पर उत्तर प्रदेश के लोग विशाल परियोजनाओं को मूर्त रूप प्रदान कर सकते हैं। 
उन्होंने कहा कि 06 सितम्बर, 2017 से मेट्रो की यात्रा आम जनता के लिए सुलभ हो जाएगी। एल0एम0आर0सी0 के प्रधान सलाहकार डाॅ0 ई0 श्रीधरन ने परियोजना के लिए जिम्मेदार टीम की सराहना करते हुए कहा कि पहली बार मेट्रो के प्रथम चरण का कार्य निर्धारित 03 वर्ष से कम समय में पूरा हुआ। इस अवसर पर प्रमुख सचिव आवास एवं शहरी नियोजन श्री मुकुल सिंघल एवं प्रबन्ध निदेशक श्री कुमार केशव ने भी अपने विचार व्यक्त किए। उद्घाटन समारोह में उप मुख्यमंत्री श्री केशव प्रसाद मौर्य व डाॅ0 दिनेश शर्मा सहित मंत्रिमण्डल के अनेक सदस्य, जनप्रतिनिधि एवं अन्य गणमान्य नागरिक भी उपस्थित थे।

UP Current Affairs September 2017 Quiz, MCQs

Uttar Pradesh (UP) Current Affairs of September 2017 Quiz, News with Explanation: Uttar Pradesh (UP) Current Affairs General Knowledge (GK) Multiple Choice Questions (MCQ) for UPPSC, UP, UPTET, UP Police examination, IAS/ Bank and other competitive examinations across India and Uttar Pradesh (UP).  As part of Uttar Pradesh (UP) Current Affairs , We will daily provides you Question of Current Affairs, India GK and World GK during whole month. Candidates who are looking for More Notes, Exam Papers, 6000+ Multiple Choice Questions (MCQs) can also Download FREE Mobile  "Uttar Pradesh GKAndroid App which works without Internet after FREE Installation.  Download NOW from below Google Play link as per your Need and Medium of Study with Daily Updates and News Question Papers addition for upcoming examinations.   Download "UTTAR PRADESH GKMobile App: 

UP Current Affairs September  2017:
कैबिनेट विस्तार में 3 सितम्बर को नया रेल मंत्री किसे बनाया गया?
A. निर्मला सीतारमण
B. गिरिराज सिंह 
C. पीयूष गोयल
D. अरुण जेटली
Answer: C 
विस्तार : पीयूष गोयल नए रेल मंत्री बने हैं, 3 सितम्बर को हुए कैबिनेट विस्तार में कुल 13 मंत्रियों ने पद और गोपनीयता की शपथ ली। मोदी कैबिनेट में फेरबदल के साथ-साथ 4 मौजूदा मंत्रियों का प्रमोशन भी हुआ।  रक्षामंत्रालय निर्मला सीतारमण को दिया गया है।..Check More UP GK Quiz at Uttarp Pradesh GK Mobile App.

गॉडमैन टू टाइकून किताब के लेखक कौन है?
A. अमित चौधरी 
B. प्रियंका पाठक नारायण
C. किरण देसाई 
D. चेतन भगत 
Answer: B 

विस्तार : योग गुरू बाबा रामदेव पर लिखी नई किताब 'गौडमैन टू टाइकून' हाल ही में विवादों में है, क्योंाकि इस किताब में बाबा रामदेव के वो राज खोले गए हैं जो शायद बाबा के समर्थकों को स्वीाकार न हो। हालांकि दिल्ली की एक स्थानीय अदालत ने योग गुरु बाबा रामदेव पर लिखी गई एक किताब पर अंतरिम रोक लगा दी है। दरअसल बाबा रामदेव ने ही खुद पर लिखी किताब पर रोक लगवाने के लिए अदालत में गुहार लगाई थी। ..Check More UP GK Quiz at Uttarp Pradesh GK Mobile App.

उत्तर प्रदेश के किस शहर में 5 सितम्बर को मेट्रो रेल सेवा शुरू की गई है?
A. वाराणसी
B. लखनऊ
C. कानपूर
D. आगरा
Answer: B
विस्तार : उत्तर प्रदेश के राज्यपाल श्री राम नाईक जी ने 5 सितम्बर को लखनऊ मेट्रो रेल के प्रथम चरण सेवा का ट्रांसपोर्टनगर से चारबाग तक उद्घाटन किया है। उन्होंने परियोजना के लिए भारत सरकार एवं राज्य सरकार को श्रेय देते हुए कहा कि इसको सफल बनाने में डाॅ0 ई0 श्रीधरन के योगदान को हमेशा याद रखा जाएगा। ..Check More UP GK Quiz at Uttarp Pradesh GK Mobile App.


Download "UTTAR PRADESH GKMobile App: 

Chief Minister Yogi Adityanath launches the Nidhi EIR Scheme

Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath on 30th August launched the Nidhi EIR (National Initiative for Developing and Harnessing Innovations in Residence) in Lucknow and have away cheques to 11 beneficiary students. Under this scheme, 11 students of front-ranking engineering colleges were selected whose ideas were very unique. Also present were Minister of state for Food and Civil Supplies and TBI-Kite chairman Mr Atul Garg. It may be pointed out here that under the Nidhi-IER scheme, these youngsters will be given Rs. 20,000-Rs. 30,000 per month as fellowship till the next year. After this, as per their entitlement, they can also be provided seed support money (Collateral Free loan) so that they can successfully execute and run their start ups and financially strengthen themselves which in turn will provide economic impetus to the nation.
Among the projects of these students was Go Glass aimed at preventing the accidents caused by sleep of drivers of roads and trains, Energy Efficient Economical Motor Bike, Sensor Based Smart Waste Management System, Hybrid Electrical Bicycles for preventing pollution, IOT technology based system to monitor glitches in solar plants, automated cleaning system of solar panels without use of water, security and safety with use of artificial intelligence and making of software and hardware for identification of face and getting the benefits of items used by consumers to them.

CM Yogi addresses Start Up Yatra 2017

Uttar Pradesh Chief Minister Yogi Adityanath ji has said that in India, a country with a huge population, Start Up programme can not only generate employment and self-employment but can also add new pace to development. Without introducing new changes and creating opportunities, no development is possible, he added while saying that Start Up is a thought, an idea which when given shape can realize the dreams and aspirations of the youth. He also said that Uttar Pradesh was a big state with a large population of youngsters and reiterated the commitment of his government to make the Start Up programme a success.
The Chief Minister expressed these views while speaking at the inauguration of the Start Up Yatra, 2017 at the Scientific Convention Centre on 30th August 2017. He also said that no society can prosper till all sections are given opportunities. Pointing out how as per the Rishi tradition there is no letter which cannot be transformed into a Mantra. Similarly there is no plant which cannot be used as medicine. He added that the need is to provide a facilitator to make the talent useful for the society. 
He also underlined that the Start Up programme is a form of the Rishi tradition and said that team spirit was must for progress. The Start Up Yatra has been started in 15 districts. Yogi ji also said that Prime Minister Mr. Narendra Modi ji has understood the responsibility of the Society and the Nation. It was for this reason that the State Government was making efforts to ensure that benefits of development are accrued by the last man standing on the social ladder. The Chief Minister also informed that for the Start Up project, the State Government has arranged for a corpus fund of Rs 1000 crore and in the coming days an MoU for this would be signed with the SIDBI. To encourage the programme, a call centre and a policy implementation app would also be launched. He added that this programme will realize the dream of 'Ek Bharat, Shreshtha Bharat'. The need of the hour, he said, was to make education pragmatic, people self reliant and stop the brain drain through Start Up programme.

मुख्यमंत्री ने प्रथम रोजगार समिट को सम्बोधित किया

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 29 अगस्त को लखनऊ में आयोजित प्रथम रोजगार समिट को सम्बोधित किया। उन्होंने कहा है कि राज्य के हर नागरिक को सुरक्षा प्रदान करना प्रदेश सरकार की जिम्मेदारी है। वर्तमान राज्य सरकार इसे पूरी तत्परता से निभाने के लिए कटिबद्ध है। प्रदेश सरकार द्वारा इस दिशा में उठाए गए कड़े कदम एवं निवेश फ्रेण्डली नीतियों के परिणाम अब दिखायी पड़ने लगे हैं। प्रदेश सरकार के प्रयासों के फलस्वरूप राज्य में निवेश का रूझान बढ़ा है। उन्होंने कहा कि कौशल विकास को बढ़ावा देकर आगामी पांच वर्षों में करीब 70 लाख नौजवानों को रोजगार उपलब्ध कराया जाएगा। श्रम कानूनों का सरलीकरण एवं निवेशकों की सुरक्षा की गारण्टी देकर निवेश का वातावरण सृजित किया जा रहा है। 
इस मौके पर उन्होंने 10 नौजवानों को सेवायोजन का प्रमाण-पत्र वितरित करने के साथ ही, ‘कैरियर पथ प्रदर्शक’ पत्रिका, सेवायोजन विभाग की मार्गदर्शिका का विमोचन तथा सेवायोजन मोबाइल एप का लोकार्पण भी किया।  रोजगार मेलों के माध्यम से नौजवानों को रोजगार उपलब्ध कराने की बात को रेखांकित करते हुए उन्होंने कहा कि अभी हाल ही में लखनऊ में तीन दिवसीय वृहद रोजगार मेले का आयोजन किया गया, जिसमें 36 कम्पनियों द्वारा करीब 1800 से अधिक अभ्यर्थियों का चयन हुआ है। किसी भी समाज के लिए अपने नौजवानों को स्वावलम्बी बनाना सर्वोच्च प्राथमिकता होनी चाहिए, जिससे यह नौजवान अपने परिवार की देखभाल स्वतः कर सकें। प्रदेश सरकार इसी दिशा में काम कर रही है।